Breaking News

ये 6 गंभीर बीमारीयां वर्किंग वुमन को ले रहीं हैं अपनी गिरफ्त में

ये 6 गंभीर बीमारीयां वर्किंग वुमन को ले रहीं हैं अपनी गिरफ्त में

16-05-18 06:05 PM Author J2M lifestyle desk

नई दिल्ली। परिवार और ऑफिस के बीच फंसकर कामकाजी महिलाएं गंभीर बीमारियों की गिरफ्त में आ रही हैं। लेकिन अगर इन बातों का ध्यान रखेंगी तो आप सेहतमंद रहेंगी। इन बीमारियों की तरफ ध्यान नहीं दिया तो इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं।

देहरादून के डॉक्टर विनीत काला ने बताया कि पुरुषों की तुलना में महिलाएं अधिक तनाव की चपेट में आती है। इसका एक कारण यह भी है कि महिलाओं के पास जॉब के अलावा भी कई जिम्मेदारियां होती है। उन पर इसे अच्छी तरह निभाने का भी दबाव रहता है। महिलाओं को चाहिए कि अपने जिम्मे केवल उतना ही काम लें, जितना वो आसानी से निपटा सकें ताकि उन्हें बेवजह का तनाव न लेना पड़े। इसके अलावा पूरी नींद लें और एक्सरसाइज करें। डिप्रेशन से गुजर रही महिलाओं को ऐसे व्यक्ति से बात करना जिनपर वे भरोसा करती हैं।

वर्किंग महिलाओं के लिए वजन बढ़ने की समस्या से दूर रहना मुश्किल हो जाता है। यदि महिला का वजन ज्यादा है तो दिल की बीमारी होने का खतरा रहता है। वजन घटाने के लिए आप पानी खूब पिएं और जरूरत के हिसाब से प्रोटीन लें। खाने पर ध्यान दें। नियमित रूप से व्यायाम करें। ज्यादा मसालेदार और तले हुए भोजन का सेवन न करें। अधिक मात्रा में मीठे या नामक का सेवन न करें। गरम पानी में नींबू का रस और शहद मिलाकर उसका सेवन करते है तो आपको अपना वजन घटता है।

माइग्रेन एक प्रकार का मस्तिष्क विकार है, जिसमें सिरदर्द होता है। इस में सिर में एकतरफा दर्द होता है। ये बीमारी किसी को भी हो सकती है लेकिन कुछ लोगों में इसका खतरा ज्यादा होता है। फिर भी थोड़ी सी सावधानी रखकर आप इस बीमारी को खुद से दूर रख सकते हैं। खुद के लाइफ स्टाइल को बदलना। खानपान में बदलाव लाना और ऑफिस में काम करते वक्त बीच-बीच में ब्रेक लेते रहें।

ऑफिस में ज्यादा शारीरिक श्रम नहीं हो पाता और बैठे-बैठे मोटापा बढ़ता है। इससे शरीर और रक्त में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ जाती है। जिस कारण ब्लडप्रेशर की समस्या जन्म लेती है। धूम्रपान या एल्कोहल इसे और बढ़ाता है। अपने खाने पर विशेष ध्यान दें। कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित रखने के लिए तली-भुनी चीजों और फास्ट फूड न लें। इसके अलावा खाने में नमक का कम प्रयोग करें। एक्सरसाईज करें।

अक्सर ऑफिस में भूख लगने पर महिला और युवतियां फास्ट फूड लेना पसंद करती हैं। इससे मोटापा बढ़ता है। प्रोटीन व फाइबर कम लेने से और फैटी फूड की अधिकता से शरीर में ग्लूकोज बढ़ता है, जिससे डाइबिटीज हो जाती है। इससे बचने के लिए शुगर चेक करवाते रहना चाहिए। वजन पर नियंत्रित रखना चाहिए। खाने में प्रोटीन व फाइबर से भरपूर डाइट लेनी चाहिए। एल्कोहल न लें।

ऑफिस में गलत पॉस्चर में बैठने से, ज्यादा देर तक कुर्सी पर बैठे रहने से ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या आती है। इसमें हड्डियां कमजोर हो जाती हैं और फ्रैक्चर्स की आशंका बढने लगती है। पोषक आहार का सेवन कीजिए, कैल्शियम और विटामिन डी से भरपूर डाइट लें। हरी सब्जियां, डेयरी उत्पाद, मछली का सेवन करें। काम करते वक्त बीच-बीच में ब्रेक लेते रहें। वजन बढ़ने न दें। वॉक पर जाएं। एक्सरसाइज और योग करें।

खेल


बिज़नेस


/* */

लाइफस्टाइल


गैजेट्स


ऑटोमोबाइल


मनोरंजन