Breaking News

कर्नाटक चुनाव ऐसा पहला चुनाव है जिसे व्हाटसएप के ज़रिए लड़ा गया

कर्नाटक चुनाव ऐसा पहला चुनाव है जिसे व्हाटसएप के ज़रिए लड़ा गया

15-05-18 05:05 PM Author J2M National Desk

नई दिल्ली।  भारत अब डिजीटल हो रहा है, इसलिए भारत में चुनाव भी डिजीटल तरीके से लड़े जा रहे है। भारत में चुनाव जीतने के लिए सोशल मीडिया(फेसबुक, व्हाट्सऐप) का सहारा लिया जा रहा है। यह मानना है अमेररिकी ‌विशलेषकों का। 

वाशिंगटन पोस्ट की माने तो कर्नाटक चुनाव में पहली बार व्हाटिसप द्वारा लड़ा गया। जिसमें करीब 20,0000 व्हाटिसएप के जरिए 15 लाख लोगों तक एक क्लिक में अपना संदेश भेज सकते है। 

इसमें सिर्फ फेक न्यूज, उन्माद भड़काने वाले और विरोधी के बयानों को तोड़मोड़ कर पेश करनेवाले संदेश थे। इनमें समुदाय विशेष में तनाव भड़काने के भी संदेश मौजूद थे। 

बताया जा रहा है कि 2019 लोकसभा चुनाव से पहले यह इसे एक मॉक टेस्ट के रूप में इस्तेमाल किया गया। यह पहली बार है जह व्हट्सएप पर यह आरोप लग रहा है उसका इस्तेमाल लोकतांत्रिक शक्तियों को खत्म करने में किया जा रहा है। 

सोशल एक्टिविस्ट की माने तो व्हाट्सएप को दुनिया के 9500 करोड़ लोग इस्तेमाल करते है। इसलिए इसे लोकतंत्र के लिए एक खतरे के रूप में भी देखा जा रहा है। 

खेल


बिज़नेस


/* */

लाइफस्टाइल


गैजेट्स


ऑटोमोबाइल


मनोरंजन